Smog or God’s Punishment/ ईश्वर की सजा का एक न्या रूप

Smog or Allah’s Punishment

Nowadays, the city of Delhi is experiencing a very, very bad, air pollution; smog that the world has never seen before. This resulted in difficulty in breathing and eye burn. Thus, the life has become an unbearable hell.

We pray to God Almighty to have mercy on the people of India, and keep them away from His anger and punishment out of His generosity.There is no doubt that India has witnessed heinous mob lynching crimes   against innocent Muslims across India. A fair human being anywhere in the world has been angry at it.

From a religious point of view, bad weather is a form of anger from God upon the people: the oppressor and the one who is silent on injustice. Wake up, people! When the punishment of God comes, where will you run from it? O ruler and the people, O oppressor! Stop injustice immediately? Be human beings, because God is powerful on more? Is not this smog like the torments used to be come down on the tyrant people before you?

ईश्वर की सजा का एक न्या रूप

आजकल, दिल्ली बहुत ही खराब, वायु प्रदूषण का सामना कर रहा है; ऐसा बुरा स्मॉग जिसे दुनिया ने पहले कभी नहीं देखा। इससे सांस लेने में दिक्कत हुई और आंखों में जलन हुई। इस प्रकार, जीवन एक असहनीय नरक बन कर रह गया है। कोई कुछ नहीं कर पा रहा है ।ईश्वर सर्वशक्तिमान से हम प्रर्थना करते हैं की भारत वासियों पर दया करे, और अपनी उदारता से उन्हें अपने क्रोध और पीड़ा से मुक्त करे ।  इसमें कोई संदेह नहीं है कि भारत में निर्दोष मुसलमानों के खिलाफ बहुत अत्याचार हो रहा  है। दुनिया के हर देश में निष्पक्ष इंसान इस पर गुस्सा हुआ और दुखी दिखाई दिया।धार्मिक दृष्टिकोण से, लोगों पर यह खराब मौसम भगवान के क्रोध का एक रूप है: अत्याचारी और अन्याय पर चुप रहने वालो जाग जाओ। लोगो जागो! जब ईश्वर की सज़ा आ जाएगी, तो कहाँ भागो गे? हे शासक और प्रजा, हे अत्याचारी! अन्याय को तुरंत रोको? मनुष्य बनो, क्योंकि भगवान इस से भी अधिक पर शक्तिशाली है? क्या यह स्मॉग उस तरह की सजा नहीं है जैसा आप से पहले अत्याचारी लोगों पर हुआ करता था?

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...

Leave a Reply


This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.